ALL प्रमुख खबर राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय राज्य , शहर खेल आर्थिक मनोरंजन स्वतंत्र विचार अन्य
शून्य ब्याज दर पर किसानों को कर्ज देगी शिवराज सरकार, जमा करने के लिए बाध्य समय
April 19, 2020 • एस पी एन न्यूज़ डेस्क • राज्य , शहर

भोपाल,(स्वतंत्र प्रयाग)पूरे मध्य प्रदेश भर मे कोरोना का कहर बना हुआ है, 19 अप्रैल तक प्रदेश भर मे 69 से ज्यादा मौत हो चुकी है, वहीं 1400 से ज्यादा पॉज़िटिव हो चुके हैं, इस बीच किसानो के लिए एक बड़ी खुश खबरी है, जिसमे मध्य प्रदेश सरकार ने शून्य ब्याज दर पर लोन देने की घोषणा कर दी है, साथ ही अब तक जिन्होने शून्य ब्याज पर कर्ज लिया था, उसे जमा करने की तारीख बढ़ा दी है।

जिला सहकारी केंद्रीय बैंकों से शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर अल्पावधि (रबी और खरीफ सीजन) कर्ज लेने वाले किसान अब 31 मई तक राशि जमा कर सकेंगे  वहीं, राज्य सरकार अगले खरीफ एवं रबी सीजन के लिए भी शून्य फीसदी ब्याज दर पर किसानों को कर्ज देगी  शनिवार को वित्त और सहकारिता विभाग के अफसरों के साथ हुई बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यह निर्णय लिया है।

सहकारी बैंकों के माध्यम से प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियां शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर कृषि ऋण उपलब्ध कराती हैं  इसमें 65 फीसदी हिस्सा नकद राशि के रूप में दिया जाता है  शेष हिस्से की सामग्री दी जाती है  खरीफ सीजन 2019 में करीब 20 लाख किसानों ने साढ़े आठ हजार करोड़ रुपये का कर्ज लिया है।

यह राशि 28 मार्च तक लौटानी थी, लेकिन कोरोना महामारी के चलते सरकार ने इसकी मियाद 30 अप्रैल तक बढ़ा दी थी प्रदेश में अब भी हालात ठीक नहीं है, जिसे देखते हुए सरकार ने कर्ज चुकाने की मियाद दूसरी बार बढ़ाकर 31 मई कर दी है  उल्लेखनीय है कि नईदुनिया पहले ही बता दिया था कि कर्ज अदायगी की तारीख बढ़ाई जाएगी।


यह कर्ज समय से नहीं चुकाने वालों को लेकर सहकारिता विभाग सख्त हो गया है  विभाग ने समय पर कर्ज की अदायगी नहीं करने वाले किसानों से ब्याज वसूलने के आदेश भी जारी कर दिए हैं  विभाग कर्ज लेने के दिन से चुकाने की तय तारीख तक तीन प्रतिशत और उसके बाद भी कर्ज नहीं लौटाने वालों से व्यावसायिक दर (14 फीसदी) की दर से कर्ज वसूली की तैयारी कर चुका है  ऐसे में सरकार के इस निर्णय ने किसानों को राहत दी है उन्हें कर्ज चुकाने के लिए और डेढ़ महीने का समय मिल गया है।