ALL राज्य , शहर प्रमुख खबर खेल अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय आर्थिक मनोरंजन स्वतंत्र विचार अन्य
रायबरेली में कोरोना से बचने के लिए लोगो ने जागरूकता संदेश का  चलाया अभियान
April 13, 2020 • एस पी एन न्यूज़ डेस्क • राज्य , शहर


रायबरेली,(स्वतंत्र प्रयाग) देश में लगातार कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ता जा रहा है और वाइरस के चैन को तोड़ने के लिए पूरे देश में 30 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन लगा दिया गया है  लॉक डाउन का पालन करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा प्रशासनिक अधिकारियों कर्मचारियों समाजसेवियों व्यापारियों तथा मीडिया के माध्यम से जनपद के सभी लोगो बूढ़े नौजवान बच्चे महिलाएं दिव्यांग जन से अपने अपने घरों में रहकर जनपद रायबरेली को कोरोना वायरस से बचाने के लिए लगातार जागरूक किया जा रहा है।

इसी कड़ी को गांव-गांव घर-घर पहुंचाने तथा लोगों को जागरूक करने की पहल विगत कई दिनों से बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा संचालित जनपद के सभी विद्यालयों में गठित मीना राजू मंच की सुगम करता टीम द्वारा बहुत ही सराहनीय प्रयास जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी आनंद प्रकाश शर्मा के दिशा निर्देशन में किया जा रहा है।

जिसका बखूबी संयोजन एवं पूरे जनपद में अभियान को ताकत देने और टीम का सहयोग तथा उत्साह वर्धन जनपद के सक्रिय शिक्षक बालिका शिक्षा रिसोर्स पर्सन एस.एस पाण्डेय द्वारा किया जा रहा है श्री पांडे ने कहा कि बेसिक शिक्षा विभाग की सुगम करता टीम ने ठान लिया है कि जनपद में कोई भी घर से न निकले स्वच्छता अपनाएं सोशल डिस्टेंस बनाकर रखें।

संदेश घर बैठे देकर आम जनमानस को कोरोना वायरस से बचाने के लिए यह अभियान निरंतर जारी रखेगा जागरूकता का संदेश देने वाली टीम ऊंचाहार से रीमा कुमारी केजीबीवी छतोह वार्डन स्वेता कौशल केजीबीवी राही की विज्ञान शिक्षिका श्रद्धा श्रीवास्तव अनीता सिंह राही से रीता सिंह सीमा मिश्रा खीरों से विंधेश्वरी ऊंचाहार से महिमा शुक्ला 

डीह से गुंजन वर्मा रश्मि श्रीवास्तव जगतपुर से वंदना त्रिपाठी ने अपने अपने विकासखंड के विद्यालय प्रबंध समिति के ग्रुप बच्चों के अभिभावक ग्रुप के माध्यम से सभी को घरों में रहने बाहर न जाने स्वच्छता अपनाने तथा लॉक डाउन का पालन कर कोरोना से बचने के लिए प्रभावशाली संदेश जागरूक करने का अभियान चलाया गया है।


बता दें की देश के हॉस्पिटल की आई रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना वायरस से संक्रमित नए मरीजों की संख्या बढ़कर 9,240 हो गया है, जिसमें से 7,812 सक्रिय है  इसमें से 332 लोगों की मौत हो चुकी है।