ALL प्रमुख खबर राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय राज्य , शहर खेल आर्थिक मनोरंजन स्वतंत्र विचार अन्य
पति ने पत्नी की गला दबाकर कर दी हत्या,जांच में जुटी पुलिस 
July 10, 2020 • एस पी एन न्यूज़ डेस्क • राज्य , शहर

 औरंगाबाद,(स्वतंत्र प्रयाग), औरंगाबाद जिले के दाउदनगर में एक सनकी पति ने अपनी पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी घटना को अंजाम देने के बाद हत्यारा पति भागने में सफल रहा, घटना दाउदनगर थाना क्षेत्र के मखरा टोला अयोध्या बिगहा की है।

 

मृतका 35 वर्षीया शांति देवी की हत्या उसके पति सोहन वर्मा ने गुरुवार की अहले सुबह बुरी तरह से मारपीट करते हुये गला दबाकर कर दी घटना की सूचना मिलने के बाद दाउदनगर के प्रभारी थानाध्यक्ष तारबाबू के नेतृत्व में सब इंस्पेक्टर आनंद कुमार ,अमरेंद्र कुमार की टीम ने पुलिस बल के साथ पहुंचे घटनास्थल पर छानबीन की हत्या के आरोपित पति को गिरफ्तार करने के लिये पुलिस ने कई गांवों में छापेमारी भी की, लेकिन आरोपित की गिरफ्तारी नहीं हो पायी और वह फरार बताया जाता है।

 

पुलिस ने मृतका के शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये सदर अस्पताल औरंगाबाद भेज दिया है घटना के संबंध में मृतका के पिता युगल मेहता के बयान पर एक प्राथमिकी थाना में दर्ज की गयी है ,जिसमें उन्होंने अपने दामाद सोहन वर्मा को आरोपित बनाते हुये कहा है कि दामाद ने उनकी पुत्री शांति देवी की हत्या गला दबाकर कर दी।

प्रभारी थानाध्यक्ष ने बताया कि आरोपित की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये सदर अस्पताल औरंगाबाद भेज दिया है निवासी युगल सिंह ने अपनी एकलौती पुत्री शांति देवी की शादी बहुत अरमान के साथ ओबरा थाना क्षेत्र के महुआंव गांव निवासी सोहन वर्मा के साथ करीब 17 वर्ष पहले किया था।

शादी के बाद से ही आरोपित पति अपने ससुराल में रहता था इस दौरान तीन बच्चों ने जन्म लिया बच्चों में 15 वर्षीय संजू कुमारी, 12 वर्षीय रंजू कुमारी और सात वर्षीय सचिन कुमार शामिल हैं इसी दौरान सोहन वर्मा की लत शराब की लग गयी।

 

ससुराल वालों का कहना है कि वह कोई काम -धाम नहीं करता था प्रतिदिन शराब के नशे में धुत होकर परिवार के सदस्यों के साथ मारपीट करते रहता था .बच्चे भी उसके प्यार- दुलार के लिये तरसते रहते थे, पत्नी को पत्नी नहीं समझता था।

शराब के नशे में धुत होकर हमेशा मारपीट करते रहता था सास ससुर को भी गाली -गलौज और मारपीट करते रहता था बताया जाता है कि ससुराल की तीन बिगहा जमीन को लिखवाने के लिये दबाव भी बनाता था लेकिन सास ससुर उसके शराब पीने की लत एवं बेरोजगारी को देखते हुये डर रहे थे कि कहीं इस संपत्ति को भी वह शराब के नशे की लत के कारण खत्म नहीं कर दे, जिसके कारण वे लिख नहीं रहे थे।

 

परिजनों ने बताया कि गुरुवार की अहले सुबह करीब तीन बजे अचानक रोने भी रखने की आवाज सुनाई पड़ी ,लेकिन किसी ने इसे संज्ञान में नहीं लिया क्योंकि प्रतिदिन आरोपित पति अपनी पत्नी के साथ शराब के नशे में मारपीट करता था परिवार के अन्य सदस्य छत पर सोये हुये थे।

जब पुत्री संजू कुमारी नीचे कमरे में आयी तो देखा कि उसकी मां शांति देवी मृत पड़ी हुई है और उसके पिता गेट खोल कर भाग रहे हैं बेटी ने करीब एक किलोमीटर तक पीछा करने का प्रयास किया, लेकिन आरोपित जबरदस्ती अपने को छुड़ाकर भागने में सफल रहा।

घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय ग्रामीणों की भीड़ मृतका के घर पहुंच गयी सभी मृतक के मृदुल व्यहवार की चर्चा कर रहे थे सिंदुआर के पूर्व पैक्स अध्यक्ष नवलेश यादव ने भी पहुंचकर शोकाकुल परिजनों को सांत्वना प्रदान की, उन्होंने आरोपित को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग पुलिस से की है।