ALL प्रमुख खबर राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय राज्य , शहर खेल आर्थिक मनोरंजन स्वतंत्र विचार अन्य
कोरोना संकट के भय से सहमी है जनता: अखिलेश यादव
May 1, 2020 • एस पी एन न्यूज़ डेस्क • राज्य , शहर


लखनऊ,(स्वतंत्र प्रयाग), उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा   कि कोरोना वायरस के कारण उत्पन्न हुई समस्याओं के समाधान के लिए प्रदेश सरकार को तत्काल विधानसभा का विशेष सत्र बुलाना चाहिए। 

लॉकडाउन के कारण एक महीने से अधिक समय से जनता घरों में है,  अस्पतालों में अन्य बीमारियों का इलाज नहीं हो पा रहा है,  कोरोना इलाज के भय से जनता सहमी हुई है।
 कोरोना जांच किट की पर्याप्त उपलब्धता न होने के कारण मरीजों की सही संख्या का पता नही चल पा रहा है।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गुरुवार को जारी बयान में कहा कि प्रशासनिक तालमेल की कमी जगह-जगह दिख रही है,  पिछले दिनों आगरा से रात में ही एक बस भर कर कोरोना पॉजिटिव मरीज सैफई अस्पताल भेज दिए गए। 
किंतु सैफई अस्पताल प्रशासन को सूचना तक नहीं दी गई। यहां मरीज घंटों सड़क पर भर्ती के लिए इंतजार में बैठे रहे।


यूपी के सीएम का लोकतंत्र में विश्वास नहीं - अखिलेश 
कहा- कोरोना के खिलाफ लड़ाई लंबी चलने वाली है। अभी तक राज्य सरकार केवल अधिकारियों के भरोसे है। विपक्ष संकट के समाधान में ऐसे सुझाव दे सकता है जिससे प्रभावी नियंत्रण होने में आसानी हो, इसके लिए विधानसभा का विशेष सत्र बुलाना चाहिए।

सरकार पहले भी विशेष सत्र बुला चुकी है उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री का लोकतांत्रिक व्यवस्था में विश्वास नहीं है,  उनका तो पूरा विश्वास नौकरशाही पर है,  लॉकडाउन की लंबी अवधि में जनता की तकलीफें बढ़ी हैं,  किसान पर बे-मौसम बरसात और ओलावृष्टि की मार पड़ी है, सरकार को इस ओर भी ध्यान देना चाहिए।