ALL प्रमुख खबर राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय राज्य , शहर खेल आर्थिक मनोरंजन स्वतंत्र विचार अन्य
करोना संक्रमण में चौथे स्थान पर पहुंचा,एक दिन में हुई 396 मौतें
June 12, 2020 • एस पी एन न्यूज़ डेस्क • राष्ट्रीय

नई दिल्ली (स्वतंत्र प्रयाग न्यूज): देश और दुनिया में कोरोना का कहर लगातार जारी है। कोरोना संक्रमितों का संख्या बढ़कर 2,98,283 हो गई है। भारत में कोरोना के अभी 1,42,795 एक्टिव मामले हैं। वहीं मरने वालों की संख्या 8,501 हो गई है।

 

वहीं, केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 10,956 नए मामले सामने आए हैं। पहली बार 1 दिन में 396 मौतें हुई हैं। इसके साथ ही देशभर में कोरोना पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या 2,97,535 हो गई है, जिनमें से 1,41,842 सक्रिय मामले हैं, 1,47,195 लोग ठीक हो चुके हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है और अब तक 8,498 लोगों की मौत हो चुकी है।

 

इसके साथ ही कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या के मामले में भारत ने गुरुवार को स्पेन और ब्रिटेन को पीछे छोड़ दिया और अब वह दुनिया में चौथा सबसे ज्यादा संक्रमित देश बन गया है। भारत से आगे अब केवल अमेरिका, ब्राजील और रूस हैं।  

 

देश में सबसे ज्यादा मरीज अभी महाराष्ट्र में हैं। गुरुवार देर रात के आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में महाराष्ट्र में कोरोना के 3607 नए मामले सामने आए हैं जबकि 152 लोगों की मौत हो गई। राज्य में एक दिन में ये सबसे ज्यादा केस हैं। अब तक कुल मौतों का आंकड़ा देखें तो यह 3590 पर पहुंच गया है और कोरोना के कुल केस की तादाद 97648 हो गई है। एक्टिव केस की संख्या 47968 है। अब तक 46078 लोग ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं।

 

दिल्ली में भी कोरोना वायरस के मामले पिछले कुछ दिनों में तेजी से बढ़े हैं। गुरुवार को राष्ट्रीय राजधानी में सबसे अधिक मरीज सामने आए, जिसके बाद कुल संख्या बढ़कर 34687 हो गई। राजधानी में सक्रिय मरीजों की संख्या 20871 है, जबकि 12731 लोग ठीक हो चुके हैं।

अभी तक 1085 लोगों की मौत हुई है।तमिलनाडु में कोरोना के 38716 मरीज हैं। इसमें से 349 लोगों की मौत हुई है। अन्य राज्यों की बात करें तो गुजरात में 22032, कर्नाटक में 6245, मध्य प्रदेश में 10241 मरीज हैं। इसके अलावा राजस्थान में कोविड-19 के अब तक 11838 मरीज मिल चुके हैं। उत्तर प्रदेश में 12088 मरीज मिले हैं, जिसमें से 7292 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 345 लोगों की जान गई है।