ALL प्रमुख खबर राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय राज्य , शहर खेल आर्थिक मनोरंजन स्वतंत्र विचार अन्य
जानवरों के चिकन से अगला वायरस फैलेगा , विश्व की आधी आबादी हो सकती खत्म , वैज्ञानिकों के दावे से सब हैरान
May 30, 2020 • एस पी एन न्यूज़ डेस्क • अंतर्राष्ट्रीय

नई दिल्ली (स्वतंत्र प्रयाग न्यूज): पूरी दुनिया इस समय महामारी से जूझ रही है। इसी बिच अमेरिका के एक मशहूर वैज्ञानिक ने हैरान कर देने वाली चेतावनी दी है। इस चेतावनी में वैज्ञानिक माइकल ग्रेगर ने कहा है कि चिकन फार्म्स से ऐसे वायरस निकल सकते हैं, जिससे कोरोना वायरस से भी बड़ी महामारी पैदा हो सकती है।

इंसानों को शाकाहारी भोजन खाने की सलाह देते हुए माइकल ग्रेगर ने अपनी नई किताब 'महामारी के दौरान खुद को कैसे बचाएं' (कैसे बचें एक महामारी) में कहा है कि बड़े पैमाने पर चिकन फार्मिंग होने से खतरा बढ़ गया है। उन्होंने कहना है कि चिकन फार्म्स से निकलने वाला वायरस इतना खतरनाक हो सकता है कि इससे आधी दुनिया को खतरा हो सकता है। 

 

हालांकि, माइकल ग्रेगर की 'भविष्यवाणी' से जुड़े कोई सबूत सामने नहीं आए हैं और ना ही किसी अन्य वैज्ञानिक ने उनके दावे की पुष्टि की है, लेकिन माइकल ग्रेगर का कहना है कि इंसानों का जीवों से नजदीकी संबंध ही उनकी जिंदगी के लिए खतरा पैदा कर रहा है। 

वैज्ञानिक का दावा- 'चिकन से फैल सकता है अगला वायरस, आधी दुनिया को खतरा'अब तक मिली जानकारी के मुताबिक ऐसा समझा जाता है कि कोरोना वायरस चमगादड़ या किसी अन्य जीव से इंसानों में फैला। खबर के मुताबिक, अमेरिकी वैज्ञानिक माइकल ग्रेगर का दावा है कि चिकन फार्म से निकलने वाले वायरस से होने वाला खतरा, कोरोना से कहीं बड़ा होगा और इससे आधी आबादी खत्म हो सकती है। कोरोना के खौफ से गिरा मुर्गे का रेट ...माइकल ग्रेगर के मुताबिक मीट खाने की वजह से इंसान महामारी को लेकर वल्नरेबल है।

हालांकि, चिकन से वायरस फैलने के खतरे के बारे में दुनिया के अन्य वैज्ञानिकों ने पुष्टि नहीं की है। लेकिन कोरोना फैलने के बाद कई देशों के जानकार दुनियाभर में विभिन्न जंगली जीवों के मार्केट को बंद करने की मांग कर चुके हैं।