ALL प्रमुख खबर राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय राज्य , शहर खेल आर्थिक मनोरंजन स्वतंत्र विचार अन्य
हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गई पुलिस टीम पर फायरिंग 8पुलिस बलों की मौत, कानपुर के माननीय भी था बदमाश विकाश दुबे...
July 3, 2020 • एस पी एन न्यूज़ डेस्क • राज्य , शहर

लखनऊ,(स्वतंत्र प्रयाग), उत्तर प्रदेश के जिला कानपुर में आधी रात को बदमाश विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस टीम पर फायरिंग में 8 पुलिस अधिकारियों की मौत हो चुकी है, 4 गंभीर घायल हैं, वहीं हिस्ट्री शीटर विकास दुबे के राजनीतिक संबद्ध भी काफी चर्चा में हैं, विकास दुबे कानपुर नगर का जिला पंचायत सदस्य भी रह चुका है।

उसके ऊपर दर्जनों केस दर्ज़ होने के बावजूद वो जिला पंचायत सदस्य बनकर माननीय बना था रजीनीति में उसका गुरु कौन था, कौन उसे बचाता रहा है, उसके ऊपर भी पुलिस लगातार खोज कर रही है फिलहाल इस वक़्त एसटीएफ़ ने अपनी पूरी तैयारी करते हुए उसे पकड़ने की टीम लगा दी है।

 

आपको बताते चलें कि फायरिंग में आठ पुलिसकर्मियों की मौत कि पुष्टि एडीजी जय नारायण सिंह ने की घटना कानपुर में चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू गांव की है जहां शातिर बदमाश विकास दुबे को पकड़ने गई थी फिलहाल सीएम योगी आदित्यनाथ ने सांत्वना व्यक्त करते हुए मुआवजे का ऐलान कर दिया है वहीं अखिलेश यादव ने भी मृतक पुलिस वालों को एक करोड़ रु देने का ऐलान किया है।   

 

कानपुर में हुई ज़बरदस्त फायरिंग के दौरान पुलिस टीम कि ओर से मरने वालों में सीओ बिल्हौर देवेंद्र मिश्रा और एसओ शिवराजपुर महेश यादव भी शामिल हैं, बताया गया है कि विकास और उसके साथियों की फायरिंग में एसओ बिठूर, एक दरोगा समेत कई पुलिसकर्मियों को भी गोली लगी दो सिपाहियों के पेट में गोली लगी जिन्हें गंभीर हालत में रीजेंसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पुलिस के आलाधिकारी और कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गई है, कई सिपाहियों को बेहद गंभीर हालत में रीजेंसी भर्ती कराया गया है और कई पुलिसकर्मी लापता हैं। 

 

गुरुवार रात करीब साढ़े 12 बजे बिठूर और चौबेपुर पुलिस ने मिलकर विकास दुबे के गांव बिकरू में उसके घर पर दबिश दी। बिठूर एसओ कौशलेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि विकास और उसके 8, 10 साथियों ने पुलिस पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। घर के अंदर और छतों से गोलियां चलाई गईं।