ALL प्रमुख खबर राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय राज्य , शहर खेल आर्थिक मनोरंजन स्वतंत्र विचार अन्य
एक अप्रैल से संगठित श्रमिको की तरह असंगठित मजदूरों निषाद मल्लाह केवट को भी सुविधा मिलनी शुरू हो जाएगी: सिद्धार्थ नाथ सिंह
March 30, 2020 • एस पी एन न्यूज़ डेस्क • राज्य , शहर


प्रयागराज ,(स्वतंत्र प्रयाग) कैबिनेट मंत्री के मीडिया प्रभारी दिनेश तिवारी ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता एवं कैबिनेट मंत्री  सिद्धार्थ नाथ सिंह जी ने कोरोना वायरस संक्रमण महामारी से जूझरहे संकट से निपटने के लिए के लिए यमुना के किनारे प्रयागराज में लगभग डेढ़ लाख निषाद (मल्लाह और केवट) रहते हैं जो संगठित क्षेत्र के श्रमिक नहीं माने जाते हैं।लॉकडाउन के दौरान उनको राशन की मदद पहुंचाने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।

विगत दिनों निषादों ने एक पत्र भाजपा नेता पीयूष रंजन निषाद के माध्यम से मेल कर  मंत्री जी को अपनी पीड़ा और दर्द लॉकडाउन के वजह से बंद कार्यों के कारण रोजगार के संकट व भुखमरी के कगार पर पहुंचने की बात बताई थी।जहाँ ब्लॉक भगवतपुर के बक्शीमोड़, सैदपुर,करेंदहा, मदारीपुर,बिसौना,फुलवा,असरावल कला,मैनापुर।ब्लॉक शंकरगढ़ अमिलिया तरहार,सेमरी,पंडुवा,प्रतापपुर,

जरखोरी,छतरगढ़,सलैया खुर्द।ब्लॉक जसरा के बीकर,कंजासा,बीरवल,देवरिया,जगदीशपुर,मानपुर,ओझापट्टी मानपुर,बढ़ैया।ब्लॉक चाका के पालपुर,अमिलिया, बसवार,मोहब्बतगंज,मंडुका,महेवा,अरैल,मवैया,लवायन, चाडी के अलावा करछना के 17 गांव और चायल के तीन गांव में निषाद मल्लाह और केवट की सर्वाधिक आबादी वाले गांव है।

कैबिनेट मंत्री  सिद्धार्थ नाथ सिंह जी ने  मुख्यमंत्री जी से निषादों के मुद्दे पर बातचीत करके उनके आशीर्वाद से एडीशनल चीफ सेक्रेट्री जो खाद्य सप्लाई का जिम्मा देख रहे हैं।असंगठित क्षेत्र के कामगारों को राशन पहुंचाने पर चर्चा हुई साथ ही जिलाधिकारी प्रयागराज से बात हुई।

जिस पर जिलाधिकारी ने बताया कि निषाद मल्लाह और केवट व सुविधा से वंचित लोगों से फार्म भरवाए जा रहा है। 
 सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा एक अप्रैल से संगठित श्रमिकों की तरह उन असंगठित मजदूरों निषाद को भी सुविधा मिलनी शुरू हो जाएगी। जो तबका छूटा व वंचित था उन सभी लोगों को सरकार के द्वारा राशन और आर्थिक सहायता प्राप्त होगी।

जिलाधिकारी प्रयागराज ने जिलाध्यक्ष यमुनापार,महानगर अध्यक्ष एवं भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं से सहयोग की मदद मांगी है  जिससे मुख्यमंत्री  योगी जी के निर्देशानुसार कार्य तेजी से संपादित कराए जा सके।सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि कोई भी शहर व गांव का गरीब,मजदूर, असहाय तथा वंचित व्यक्ति भूखा नही रहेगा उत्तर प्रदेश सरकार गांव के अंतिम व्यक्ति तक सहायता पहुँचाने के लिए कृतसंकल्पित है।धैर्य,संयम के साथ 14 अप्रैल तक घरों में रहकर लॉकडाउन का सतर्कतापूर्वक पालन करें।