ALL प्रमुख खबर राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय राज्य , शहर खेल आर्थिक मनोरंजन स्वतंत्र विचार अन्य
डिलीवरी मैन की बहादुरी से टल गया हादसा , कन्हई पुलिस बदमाशो की रही है तलाश
April 4, 2020 • प्रभात पांडेय • राज्य , शहर

प्रतापगढ़,(स्वतंत्र प्रयाग), कन्हई थाना क्षेत्र में होम डिलीवरी करने गए ओम इंडेन गैस सर्विस के कर्मचारी अरुण पांडेय एवं ड्राइवर को मोटरसाइकिल सवार चार बदमाशो ने गाड़ी रोक कर कट्टा दिखाते हुए पैसा लूटने का प्रयास किया।
 किन्तु कर्मचारी की बहादुरी से बदमाशो को मुह की खानी पड़ी बदमाश खाली हाँथ भाग निकले।
           

बता दे की ओम इंडेन गैस एजेंसी के  कर्मचारी कन्हई थाना के ताला खमपुर, किशुनगंज होते हुए तिवारीपुर गांव के राजबहादुर तिवारी के घर होम डिलीवरी करके कोहड़ौर और किशुनगंज मार्ग पर आ रहे थे।

कि पीछे से एक मोटरसाइकिल पर चार बदमाश सवार होकर आए और ड्राइवर के पास  मोटरसाइकिल सटा कर खड़ी कर दिए और कहा गाड़ी रोको ड्राइवर ने गाड़ी रोक दिया।
और उसमे से तीन लोग दूसरी तरफ बगल में बैठे कर्मचारी अरुण पांडेय को कट्टा सटाकर गाली  गलौज देते हुए जान से मारने की धमकी देते हुए गाड़ी से नीचे उतार लिए और पैसा मांगने लगे।
 

इसी बीच दूसरे बदमाश जिसके हाँथ में चाकू था गाली  दिया और जान  से मारने की धमकी दे कर कहा जितना पैसा हो देदो नही तो जान से मार देंगे इसी बीच मौके की नजाकत देख बहादुरी का परिचय देते हुए अरुण पांडेय ने बदमाश के कट्टे को पकड़कर नाल को  ऊपर करते हुए बदमाश के प्राइवेट पार्ट पर पैर खींचकर मार दिया जिससे बदमाश लड़खड़ा कर गिर पड़ा।

 तभी पांडेय डिलीवरी मैन ने उसका कट्टा छीन लिया जो बदमाश चाकू लिए था वह भी भाग खड़ा हुआ।
यह देख बदमासो ने भागने में ही अपनी भलाई समझी तीनो बदमाश मोटरसाइकिल से किसनगंज की ओर भाग गए चौथा बदमाश जो चाकू लिए था पश्छिम की ओर भागा  किसी को  जान माल तथा पैसे की हानि नही हुई।

अतुन पांडेय डिलीवरी मैन का मोबाइल गायब हो गया किन्तु सूझ बूझ का परिचय देते हुए विजयपाल के मोबाइल से अरुण पांडेय ने 112 पर काल कर दिया पी आर वी की गाड़ी पहुच गई कन्हई थाने की पुलिस तथा क्षेत्राधिकारी पट्टी भी मौके पर पहुच गए।
 

पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए बदमाशो  की खोजबीन कर रही है डिलीवरी मैन की बहादुरी को देखते हुए एजेंसी के मालिक ओमप्रकाश पांडेय ने पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह को पुलिस की सक्रियता पर धन्यवाद दिया।
तथा  साथ ही कर्मचारी डिलिवरी मैन अरुनपाण्डेय को एक नया मोबाइल तथा 1100 रुपये बहादुरी पर इनाम स्वरूप दिया।