ALL राज्य , शहर प्रमुख खबर खेल अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय आर्थिक मनोरंजन स्वतंत्र विचार अन्य
देश मे बीयसयफ तथा सीआईयस यफ के 200 से ज्यादा जवान पॉजिटिव सीआरपीएफ का कार्यालय हुआ सीज
May 9, 2020 • एस पी एन न्यूज़ डेस्क • राष्ट्रीय


नई दिल्ली,(स्वतंत्र प्रयाग) देशभर मे कोरोना वायरस अब सुरक्षाबलों तक भी पहुंच चुका और अब तेजी से फैल रहा है इसमे सबसे बड़ी संख्या दिल्ली मे सीआरपीएफ और अन्य राज्यों मे बीएसएफ़, सीआईएसएफ़ के जवानों मे कोरोना पाया गया  दिल्ली मे सीआरपीएफ़ का कार्यालय सील कर दिया गया, वहीं कोलकाता मे एक बीएसएफ़ जवान की मौत हो चुकी है।

पिछले सप्ताह ही सीआरपीएफ के जवानों में वायरस की खबर आने के बाद मुख्‍यालय सील किया गया था अब बीएसएफ के जवानों में वायरस के मामले बढ़ गए हैं शुक्रवार को BSF के 30 और कर्मी कोरोना वायरस से संक्रमित मिले हैं, लिहाजा बल में संक्रमित कर्मियों की संख्या बढ़कर 221 हो गई है जबकि दो ठीक हो चुके हैं यह संख्या सभी केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) में सर्वाधिक है  अभी तक अर्धसैनिक बलों के कुल 530 कर्मी कोरोना संक्रमित मिले हैं।

एक बीएसएफ BSF अधिकारी ने बताया कि गुरुवार से अब तक संक्रमित मिले बल के 24 कर्मी त्रिपुरा के धलाई स्थित 86वीं बटालियन के हैं, जबकि इनमें से छह दिल्ली के हैं उन्होंने बताया कि दिल्ली में संक्रमित मिले छह कर्मियों को झज्जर स्थित एम्स में भर्ती कराया गया है, जबकि त्रिपुरा में संक्रमित मिले 24 कर्मियों को अगरतला स्थित जीबी पंत अस्पताल में शिफ्ट किया गया है।

केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआइएसएफ) CISF ने शुक्रवार को इस बात की पुष्टि की कि कोलकाता में तैनात बल के सहायक उपनिरीक्षक (एएसआइ) की मौत कोरोना वायरस वायरस की वजह से हुई है एक सीआइएसएफ अधिकारी ने बताया कि उक्त एएसआइ कोलकाता स्थित भारतीय संग्रहालय की सुरक्षा इकाई में तैनात था उसकी गुरुवार को कलकत्ता मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में मृत्यु हो गई  सीआइएसएफ में अब तक कुल 35 कर्मी कोरोना वायरस से संक्रमित मिले हैं।

पिछले सप्‍ताह ही CRPF केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के दक्षिणी दिल्ली के CGO कॉम्प्लेक्स में स्थित मुख्यालय को सील कर दिया गया था इस अर्धसैनिक विंग के एक बस ड्राइवर के कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के बाद यह कार्रवाई की गई  शनिवार को ड्राइवर की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद इसको तुरंत सील कर दिया गया  गौरतलब है कि यहां वायरस का पहला मामला 20 अप्रैल को सामने आया था।

इनमें कुछ जवान संक्रमित पाए गए  इसके बाद यहां सभी जवानों की जांच का फैसला किया गया  अधिकारियों के मुताबिक कुछ दिन पहले एक जवान की कोरोना से मौत हो गई  वह एसआई के पद पर तैनात थे वहीं अधिकतर जवानों में अभी तक कोई लक्षण सामने नहीं आए हैं इन सभी को मंडोली जेल परिसर में बने क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती किया गया हैं।


वहीं प्रदेश मे ही लगभग 2 दर्जन से ज्यादा जवान पॉज़िटिव पाए जाने के बाद उस पूरे क्षेत्र को क्वारंटाइन किया गया था।