ALL प्रमुख खबर राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय राज्य , शहर खेल आर्थिक मनोरंजन स्वतंत्र विचार अन्य
देश भर में पांच हजार पांच सौ दो मरीज कोरोना पॉजिटिव सबसे ज्यादा महाराष्ट्र में 1078 मुम्बई तथा इंदौर में हालत गंभीर
April 8, 2020 • एस पी एन न्यूज़ डेस्क • राष्ट्रीय


नई दिल्ली,(स्वतंत्र प्रयाग) पूरा देश इस वक़्त कोरोना जैसी महामारी से जूझ रहा है, गरीब अमीर, खिलाड़ी, स्टार, हर तरफ बस कोरोना कि हाहाकार ही मची हुई है ऐसे मे देश बहुत ही गंभीर हालात से गुजर रहा है, पीएम नरेंद्र मोदी लगातार लोगों से घरों मे रहने कि अपील कर रहे हैं, जिससे देश का हर नागरिक सुरक्शित रहे  कोरोना पॉज़िटिव कि संख्या हर रोज़ बढ़ते क्रम मे दर्ज कि जा रही है  इस वक़्त 8 अप्रैल कि सुबह 10 बजे तक कि रिपोर्ट के अनुसार देश मे 5 हजार 502 मरीज पॉज़िटिव हैं सबसे गंभीर हालत इस वक़्त महाराष्ट्र की है उसके बाद दिल्ली फिर मध्यप्रदेश बहुत ही बुरे दौर से गुजर रहा है।

बुधवार को महराष्ट्र में 60 और नए केस मिले इससे महाराष्ट्र मे कुल पॉज़िटिव संख्या 1078 हो चुकी है  मुंबई के बांद्रा वेस्ट स्थित एक अस्पताल में डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ ने घटिया क्वालिटी के पीपीई किट दिए जाने का आरोप लगाते हुए प्रदर्शन भी जोरदार हुआ।

वहीं, मध्य प्रदेश के इंदौर में भी 22, राजस्थान में 20 और आंध्रप्रदेश में 15 नए पॉजिटिव मिले उत्तर प्रदेश में नोएडा, गाजियाबाद, लखनऊ समेत 15 जिले सील हुए  यहां अब सिर्फ होम डिलीवरी ही होगी, किसी भी प्रकार से लोग घरों से बाहर नहीं निकल सकेंगे वहीं उत्तर प्रदेश मे मुंह पर कपड़ा या मास्क लगाकर ही चलना होगा।

संक्रमण को देखते हुए यूपी के सभी जिले, महाराष्ट्र के मुंबई और चंड़ीगढ़ में घर से निकलने पर मुंह पर कपड़ा या मास्क लगाना जरूरी होगा, नहीं तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी  केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 8अप्रैल बुधवार शाम 4 बजे बताया कि, पिछले 24 घंटे में देशभर में 773 नए पॉज़िटिव मिले हैं, जबकि 35 मरीजों की मौत हो चुकी है।

देश भर मे अब तक कुल पॉज़िटिव मरीजों का आंकड़ा 5 हजार 194 पहुच गया है, जिसमे से 402 मरीज ठीक भी हो चुके हैं, लेकिन एहतियातन डॉ ने उन्हे कोरंटाइन मे रखा हुआ है  जबकि 149 की मौत हो चुकी है।

भारत सरकार ने अपील करते हुए किसी प्रकार कि अफवाह पर ध्यान नहीं देने को कहा है, साथ ही कोरोना से जुड़ी हर जानकारी के लिए www.covid19india.org वेबसाइट सर्च करने को कहा गया है।

केंद्र सरकार के सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता ने सुप्रीम कोर्ट को जवाब देते हुए कहा कि, सरकार अपनी ओर से हर संभव प्रयास कर रही है  डॉक्टर हमारे कोरोना वॉरियर्स हैं, उन्हें भी सुरक्षा दी जा रही है डॉ. अपना घर छोड़कर होटलों में रुकने कि व्यवस्था भी कराई जा रही है।

केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने राज्य सरकारों को जरूरी सामान की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए पत्र लिखा  उन्होंने कालाबाजारी करने वाले और ज्यादा कीमत वसूलने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

पुड्डुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी ने कहा है कि हमारी सरकार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने के लिए पत्र लिखेगी  लोग खुद को अलग-थलग किए रहें यही कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने का एकमात्र उपाय है।

कोरोना संकट के बीच भारतीय सेना ने 16 अप्रैल को होने वाली द्विवार्षिक कमांडर कॉन्फ्रेंस आगे बढ़ाई  इसमें सेना प्रमुख एमएम नरवणे की अध्यक्षता में सीमा सुरक्षा समेत कई अहम मुद्दों पर चर्चा होनी थी।