ALL प्रमुख खबर राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय राज्य , शहर खेल आर्थिक मनोरंजन स्वतंत्र विचार अन्य
डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की पेरोल याचिका पुनः खारिज बीमार मां ने लगाई थी गुहार
April 25, 2020 • एस पी एन न्यूज़ डेस्क • राज्य , शहर


चंडीगढ़,(स्वतंत्र प्रयाग) अपनी दो शिष्याओं का बलात्कार के मामले में रोहतक की सुनरिया जेल में काट रहे डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम की तीन सप्ताह के पैरोल की याचिका प्रशासन ने खारिज कर दी है।

अधिकारियों से मिली जानकारी के मुताबिक, 52 वर्षीय राम रहीम की बीमार मां नसीब कौर ने उनकी बीमारी के आधार पर पैरोल के लिए याचिका दाखिल की थी हाल ही में सुनरिया जेल अधीक्षक के समक्ष पैरोल याचिका पेश की गई थी जिसे सिरसा के पुलिस अधीक्षक से मिली जानकारी के आधार पर खारिज कर दिया गया।

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि शांति भंग होने की आशंका को मुख्य आधार बनाकर पैरोल याचिका को अस्वीकार कर दिया गया  पिछले साल जून में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख ने सिरसा में अपने खेतों में खेती करने के लिए 42 दिन की पैरोल के लिए आवेदन किया था।

बाद में उसने अपना आवेदन वापस ले लिया पिछले साल अगस्त में भी डेरा सच्चा सौदा प्रमुख की पैरोल याचिका खारिज कर दी गई थी  उस समय भी डेरा प्रमुख ने अपनी बीमार मां से मिलने के लिए पैरोल की मांग की थी।

गौरतलब है कि स्वयंभू बाबा राम रहीम का क्षेत्र में अच्छा-खासा प्रभाव है और बड़ी संख्या में लोग उसका अनुसरण करते हैं  इससे पहले उसने अपने आश्रम के मुख्यालय में खेतों की देखभाल के लिए 42 दिनों की पैरोल की मांग की थी, लेकिन उसकी रिहाई से उत्पन्न होने वाली कानून-व्यवस्था की स्थिति को देखते हुए उसे पैरोल नहीं दी गई थी।

पंचकूला की एक कोर्ट द्वारा राम रहीम को अगस्त 2017 में दो महिलाओं के साथ दुष्कर्म करने के लिए 20 वर्ष की सजा सुनाई गई थी पंचकूला स्थित एक विशेष सीबीआई अदालत ने जनवरी में उसे और तीन अन्य को 17 साल पहले एक पत्रकार की हत्या मामले में भी आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी  52 वर्षीय राम रहीम फिलहाल रोहतक की हाई सिक्योरिटी वाली सुनारिया जेल में बंद है।