ALL राज्य , शहर प्रमुख खबर खेल अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय आर्थिक मनोरंजन स्वतंत्र विचार अन्य
Covid 19अस्पताल में आग, 8 कोरोना मरीजों की दर्दनाक मौत, PMO ने किया मुआवजे का ऐलान
August 7, 2020 • एस पी एन न्यूज़ डेस्क • राज्य , शहर

अहमदाबाद (स्वतंत्र प्रयाग न्यूज): गुजरात के अहमदाबाद में आज तड़के 3 बजे एक निजी अस्पताल में आग लग जाने से तीन महिलाओं समेत 8 कोरोना मरीज़ों की दर्दनाक मौत हो गई। उप मुख्यमंत्री सह स्वस्थ मंत्री नितिन पटेल ने बताया कि नवरंगपुरा इलाक़े में स्थित श्रेय अस्पताल के आइसीयू वार्ड में तड़के लगभग 3 बजे आग लग गई। इसे कोरोना के उपचार के लिए सरकार ने नामित किया था।

 

इस घटना में वहां इलाज के लिए भर्ती 8 कोरोना मरीज़ों की मौत हो गई। आग बुझाने का प्रयास करते हुए अस्पताल के एक पर चिकित्सा कर्मी घायल भी हो गया। आग लगने के कारणों तथा सम्पूर्ण घटना की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। पटेल ने बताया की प्रारम्भिक अनुमान के अनुसार आग आइसीयू में किसी उपकरण में शॉर्ट सर्किट के कारण लगी हो सकती है।

अस्पताल प्रशासन पर दमकल कर्मियों को देर से बुलाने का आरोप है। जांच के लिए गठित कमिटी तीन दिन में अपनी रिपोर्ट देगी।वहीं आग को क़ाबू कर लिया गया है और बाक़ी के 41 मरीज़ों को सरकारी एसवीपी अस्पताल में भेज दिया गया है। अस्पताल में क़रीब 50 कोरोना मरीज़ भर्ती थे। सभी कोरोना पीड़ित बताए गए हैं।

इस घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दुःख प्रकट किया है तथा मृतकों के परिजनो के लिए आर्थिक सहायता की भी घोषणा की।उन्होंने ट्वीट करके लिखा, 'अहमदाबाद के अस्पताल में आग लगने से दुखी हूं। शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी संवेदना हैं। आशा करता हूं कि घायल जल्द ठीक हो जाएंगे। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी जी और मेयर बिजल पटेल से स्थिति के बारे में बात की। प्रशासन प्रभावितों को हर संभव सहायता प्रदान कर रहा है।' 

 

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष(पीएमएनआरएफ) से प्रत्येक मृतक के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है। वहीं आग लगने से घायल हुए मरीजों को 50,000 रुपये की राशि दी जाएगी।मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने अहमदाबाद के श्रेय अस्पताल में आग लगने की घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं। अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह विभाग) संगीता सिंह जांच का नेतृत्व करेंगी। मुख्यमंत्री ने तीन दिन में रिपोर्ट देने का आदेश दिया है। यह जानकारी मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा दी गई है।